प्राचीन मिस्र के रिवाज और तथ्य, जिन्हे सुनकर आप भी दंग रह जायेंगे

0
Ancient-misr-customs-and-facts

प्राचीन मिस्र के रिवाज और तथ्य, जिन्हे सुनकर आप भी दंग रह जायेंगे

बचपन से हम दुनिया के 7 अजूबो के बारे में पढ़ते और सुनते आ रहे है | उन्ही में से एक है ग़िज़ा के पिरामिड | पिरामिड के बारे में तो अपने सुना ही होगा | उन पिरामिड को देखकर सबसे पहले यह सवाल हमारे दिमाग में आता है कि हज़ारो साल पहले इन पिरामिडो को बनाया कैसे गया होगा कटोकि उस समय टेक्नोलॉजी बिल्कुल ना के बराबर थी |

मिस्र (देश) अपनी सबसे प्राचीन सभ्यता के लिए जाना जाता है | वैसे तो मिस्र में 137 पिरामिड है और ग़िज़ा का ग्रेट पिरामिड 7 अजूबो की सूचि में शामिल है | ऐसा मन जाता है कि मिस्र के पिरामिडो का निर्माण तत्कालीन राजाओ के शवों को दफ़नाने के लिए किया जाता था | साथ ही खाने पीने कि चीज़े, बर्तन आदि भी साथ में दफन कर दिया जाते थे |मिस्र के लोगो की मान्यता है की यह सब करने से मरने के बाद व्यक्ति दूसरी दुनिया में चला जाता था, जहा उसके साथ दफनाई गयी चीज़े उसके काम आती है |

मिस्र आधिकारिक तौर पर मिस्र अरब गणराज्य एक अंतरमहाद्वीपीय देश है | जो अफ्रीका के उतर पूर्वी कोने में और एशिया के दक्षिण पश्चिमी कोने में फैला हुआ है | मिस्र अफ्रीका और मध्य पूर्व के सबसे अधिक जनसँख्या वाले इस्लामी देश में से एक आता है | इसका अधिकतर हिस्सा नील नदी के किनारे वाले हिस्से में रहता है जिसके दोनों तरफ रेगिस्तान पड़ते है | वैज्ञानिको के अनुसार इन पिरामिडो के नीचे बहुत से गुप्त रास्ते और कमरे हो सकते है | जिनके बार में अभी भी कोई पुख्ता सबूत नहीं है |

Pyramid of giza

 

कहा जाता है कि मरने वालो को ममी(mummy) बनाकर इन पिरामिडो में दफनाया जाता था | अगर ममी को सुरक्षित रखने के लिए इन पिरामिडो को बनाया गया था तो कही न कही वो सभी ममी अभी भी सुरक्षित होंगी | ग़िज़ा के ग्रेट पिरामिड की ऊंचाई 450 फीट है | 43 सदियों तक यह दुनिय कि सबसे ऊंची संरचना थी, लेकिन 19वी सदी में इसका यह रिकॉर्ड टूट गया | और इस पिरामिड का जो नीचे का भाग है वह 13 एकड़ में फैला हुआ है | जो लगभग 16 फुटबॉल के मैदान जितना बड़ा है |

लेकिन बात फिरसे घूम फिरके यही पर आ जाती है कि आखिर उस समय में बिनाकिसी टेक्नोलॉजी के ऐसा भव्य पिरामिड कैसे बनाया गया होगा | क्योकि इंजीनियर भी मानते है कि आज के ज़माने में इतनी एडवांस टेक्नोलॉजी होने के बाद भी बिल्कुल ऐसा पिरामिड का निर्माण करना लगभग नामुमकिन है |

मिस्रवासियों के कुछ रिवाज और तथ्य , जिन्हे पढ़कर आप अचंभित हो जायेंगे

1. मिस्र के निवासी बालो से नफरत करते थे, उनके मुताबिक शरीर पर बाल होना स्वास्थ्य के लिया हानिकारक होता है | इसलिए वे लोग शरीर से हर तरीके के बाल को साफ कर देते थे | मिस्र के लोगो की तस्वीरों में बाल होते है वो असली नहीं होते थे, वे लोग विग को टोपी की तरह पहनते थे |

2. मेकअप का चलन | मिस्र में मेकअप करना आवश्यक था | ये लोग सुरमा का प्रयोग जरूर करते थे | उन लोगों का मानना था कि हरा और काला सुरमा उन्हें सूर्य की किरणों तथा हानिकारक संक्रमणों से बचाये रखता था |

3. मिस्र में नौकरो को भी राजाओ के साथ दफनाया जाता था | यह बहुत ही अचंभित करने वाली बात है कि राजाओ के साथ उनके नौकरो को भी जिन्दा दफना दिया जाता था |

4. आजाद थी मिस्र की महिलाये | पूरी दुनिया के विपरीत मिस्र की महिलाये जमीं ख़रीद सकती थी, जज बन सकती थीऔर अपनी वसीहत खुद लिख सकती थी | अगर वह बाहर काम करने जाती थी तो उन्हें सामान वेतन दिया जाता था |

5. गणित के ज्ञाता होते थे मिस्र के निवासी | उनके द्वारा बनायीं गयी संरचनाओं से यह साबित होता है कि गणित और वास्तु कला में वे बहुत निपुण थे |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here